2 अगस्त को क्या है

0
64
2 august ko kya hai

अगस्त 2 अगस्त माह का दूसरा दीन इस दिन भी ना जाने कितनी इतिहास में घटनाएं घटी होंगी कुछ अच्छी तो कुछ दिल पर एक दुख का एहसास देने वाली,पर जो भी हम क्या कर सकते हैं। हैं ..ना ..हम इतिहास नही बदल सकते है और ना ही हम वर्तमान में चल रही परिस्थितियों को ही सही कर सकते हैं।

जो भी घटना है वो तो घटित हो ही जाता है।पर हम इसमें भी कुछ अच्छा ढूंढ कर दुखी होने की बजह खुश हो सकते है।खेर जो भी हो चलिए देखते है।इतिहास के पन्नो में 2 अगस्त को क्या – क्या घटा

आखिर 2 अगस्त होता क्या है

2 अगस्त को हिंदी कैलेंडर हो या अंग्रेजी, अगस्त माह को 8 वे महीने के रूप में गिना जाता है ग्रेगोरी कैलेंडर के अनुसार 2 अगस्त वर्ष का 214वां (लीप वर्ष में 215 वां)दिन होता है औऱ अगर हम गिनती के हिसाब से कहे तो साल में अभी औऱ 151 दिन बाकी है।तो इसे कहते है 2 अगस्त, और क्या खास है 2 अगस्त पर चलिए जानते है।

2 अगस्त महत्वपूर्ण उत्सव

  1. 2 अगस्त विश्व स्तनपान दिवस जो कि अगस्त माह के प्रथम सप्ताह तक चलता है।
  2. 2 अगस्त मैत्री दिवस (friendship day)जो कि अगस्त के प्रथम रविवार से ही शुरू होता है।
  3. 2 अगस्त दादरा एवं नगर हवेली मुक्ति दिवस मनाया जाता है।

2 अगस्त की महत्वपूर्ण घटनाएं और इतिहास

इतिहास के पन्नो में 2 अगस्त का भी अपना एक इतिहास हैं और कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं भी होंगी तो चलिए जानते है 2 अगस्त का इतिहास और घटनाएं  सबसे पहले जानेगें की इतिहास में 2 अगस्त के दिन क्या महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो अब एक इतिहास बन गई।और जिसे जानना हमे अतिमहत्वपूर्ण है परंतु ये भी सत्य है कि 2 अगस्त का दिन हमारे देश भारत के लिए महत्वपूर्ण साबित हुए इस 2 अगस्त की तारीख़ ने 2 अगस्त के दिन भारतीय खेल में अपना अत्यधिक पर्चस्व फैलाया तो चलिए जाने 2 अगस्त का इतिहास…

2 अगस्त का इतिहास एवं घटनाएं

-2 अगस्त 1987 का दिन हमारे देश भारत के विश्वनाथन आंनद ने फिलिपिन में आयोजित विशव जूनियर शतरंज चैम्पियनशिप में खिताबी विजय हासिल करि थी और ऐसा करने वाले एशियाई शतरंज के पहले खिलाड़ी बने विश्वनाथन आनन्द जी।

-2 अगस्त 1876 को भारत के राष्ट्रीय ध्वज का निर्माण करने वाले पिंगली वेंकैया का जन्म हुआ था।

-2 अगस्त 1763 को बिट्रिश सेना ने मुर्शिदाबाद पर अपना कब्जा जमा लिया था जिसके फलस्वरूप बिट्रिश सेना का पश्चिम बंगाल के गिरिया में मीर क़ासिम के साथ युद्ध हुआ था।और इस युद्ध मे बिट्रिश सेना मीर कासिम को हराकर विजयी हुई।

-2 अगस्त 1790 में अमेरिका में जनगणना की शुरुआत पहली बार हुई।

-2 अगस्त 1858 में बिट्रिश सरकार द्वारा एक अधिनियम पारित किया गया जिसे गवर्नमेंट इंडिया एक्ट नाम दिया गया।

-2 अगस्त 1831 – 10 दिन के अभियान के बाद मिली कामयाबी में नीदरलैंड ने बेल्जियम पर कब्जा कर लिया था।

-2 अगस्त 1870 में दुनिया का पहला भूमिगत रेल्वे ट्यूब की शुरुआत लंदन में सबसे पहले हुई थी।

-2 अगस्त 1980 इटली में बम धमाका हुआ था।जिसमे 85 लोगो की मौत हो गयी थी।

-2 अगस्त 1922 चीन में समुद्री तूफान की बजह से 60,0000 लोगो की मृतु हो गयी थी।

-2 अगस्त 1944 तुर्की ने इस जर्मनी के साथ अपने राजकीय सम्बन्ध तोड़ दिए थे।

-2 अगस्त 1955 सोवियत संघ ने परमाणु परीक्षण किया था इस दिन।

-2 अगस्त 1984 बिट्रेन के एक नागरिक के फोन टेपिंग को यूरोप के मानवाधिकार कोर्ट ने यूरोपीय संधि का उल्लंघन बताया था।

-2 अगस्त 1990 प्रथम खाड़ी युद्ध की बजह बना इराक के 1 लाख ने भी अधिक सेनिको ने 700 टैंकों के साथ कुवैत पर कब्जा करके अपना बना लिया था।

-2 अगस्त 1999 चीन ने लम्बी दूरी 8000 कीमी.सतह पर मार करने वाली मिसाइल का परीक्षण किया था।

-2 अगस्त 1999 भारत मे ही विपरीत दिशा की और चल रही एक पटरी पर ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस और अवध असम एक्सप्रेस घेसल में आमने सामने टकरा गई थी।

-2 अगस्त 2001 को पाकिस्तान ने भारत को चीनी आयत करने की मंजूरी दी थी।

-2 अगस्त 2007 जाफना के दक्षिणी द्वीप कियुशू में सुबह तड़के आये भयानक तूफान जिसका नाम युगासी था जिसने व्यापक पैमाने पर अत्यधिक क्षति पहुंचाई थी।

-2 अगस्त 2010 पाकिस्तान जो कि भारत का पड़ोसी देश है।जिसके खैबर पख्तूनख्वा प्रान्त में बाढ़ आने से 1000 से भी अधिक लोगो की मौत हो गयी थी।

इस प्रकार हमारे देश भारत के अलावा पूरी दुनिया मे ही ना जाने कितनी ही घटनाएं घटी होंगी जिनके बारे में इतिहास के पन्नो में कोई जानकारी शामिल नहीँ हो पाई होंगी ,परंतु ये घटनाएं अत्यधिक महत्वपूर्ण घटनाएं है।जिन्होंने इतिहास के पन्नो में अपना महत्वपूर्ण स्थान बना लिया क्योंकि कोई भी घटना या इतिहास अचानक ही बन जाते है।जिसकी कोई तारीख या समय निश्चित नहीं होता।इसे महत्व इनके बुरे या अच्छे कार्य बना देते हैं।

2 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति का स्वभाव

ये तो हम सब ही जानते हैं कि पूरे वर्ष ही पूरी दुनिया मे बच्चों का जन्म होता है।लेकिन क्या ये हमें पता रहता हैं कि इनका किस तरह का स्वभाव होंगा आपने देखा होंगा की कोई बच्चा बहुत चतुर तो कोई भोलाभाला, तो कोई अच्छी किस्मत लेकर आते हैं, तो किसी की किस्मत कुछ खाश नहीँ होती और ये सब बच्चा स्वयं नहीँ चाहता कि ऐसा होए,बस जो भगवान ने उसके साथ लिखा है वही होंगा और इसका अत्यधिक प्रभाव उस माह में जन्म लेने का भी पड़ता है।

क्योंकि हर दिन,हर माह का अपना एक विशेषमहत्व या प्रकृति होती है।व्यक्ति का उस माह के गुण ,दोष,और दिन का भी योगदान रहता है। तो चलिएजानते हैं 2 अगस्त को जन्म लेने वाले जातक का स्वभाव…

2 अगस्त को जन्म केने वाले व्यक्ति में शानदार ओर वैभवशाली जीवन जीने की प्रबल ईक्षा रहती है और इसको पाने के लिए वह पूरी कोशिश करता है 2 अगस्त को जन्म लेने वाला व्यक्ति का गुरु सूर्य होता है इस बजह से ही ये व्यक्ति उग्र स्वभाव के होते है जिसकी बजह से ये इस तरह के स्वभाव के कारण परेशान से रहते है इनको हमेशा ऐशो आराम का जीवन को पाने की ईक्षा रहती है और अगर ये ना मिले तो ये हठी, क्रोधित और हिंसा का कार्य करते है।

2 अगस्त को जन्म लिए व्यक्ति

-2 अगस्त 1861 भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिक जो रसायन विज्ञान के जनक माने जाते उनका जन्म हुआ था

-2 अगस्त 1918 दादा वासवानी का जन्म सिंध के हैदराबाद के एक सिंधी परिवार में हुआ था।दादा वासवानी के चाचा साधु वासवानी एक रहस्यवादी,दार्शनिक, मानवतावादी,शिक्षाविद ,और भारतीय संस्कृति को प्रेरित किया है।दादा वासवानी ने 75 पुस्तक लिखी है।तथा और भी समाजसुधारक और अन्य सम्मानीय कार्य किये है।जिनके लिए उन्हें काफी सम्मान मिल चुका है।

-2 अगस्त 1945 बंकर रॉय का जन्म हुआ था।ये समाजिक कार्यकर्ता और एक शिक्षक है 2010 में 100 सबसे प्रतिभाशाली व्यक्तियों में से एक के रूप में चुना गया था।

-2 अगस्त 1924 जेम्स आर्थर बाल्डविन का जन्म हुआ था ये अफ्रीकी-अमेरिकी उपन्यासकार, निबन्धकार, नाटककार, कवि ओर सामाजिक आलोचक थे।

-2 अगस्त 1922 भारत के प्रसिद्ध उधमियों में से एक जी.पी.बिड़ला का जन्म हुआ था।

-2 अगस्त1956 गुजरात के वर्तमान मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का जन्म हुआ था।

-2 अगस्त 1958 पूर्व भारतीय क्रिकेटर अरशद अयूब का जन्म हुआ था।

-2 अगस्त 1878 पिंगली वेंकय्या जिन्होंने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का निर्माण किया,उनका जन्म हुआ था।

-2 अगस्त 1955 धीरेंद्र अग्रवाल जी का जन्म हुआ जो ग्यारहवीं और बारहवीं लोकसभा के सदस्य थे।

-2 अगस्त 1877 रविशंकर शुक्ल जी का जन्म हुआ था।जो मध्यप्रदेश के पहले मुख्यमंत्री थे।

-2 अगस्त 1956 विजय रुपाणी जी का जन्म हुआ जो कि वर्तमान में गुजरात के मुख्यमंत्री है।

-2 अगस्त 1966 एम.वी.श्रीधर जी का जन्म हुआ जो कि भारतीय क्रिकेटर है।

-2 अगस्त 1970 फिलो वालेस जी का जन्म हुआ जो पशिचिमी भारतीय क्रिकेटर है।

2 अगस्त 1931 उमाकांत मालवीय जी का जन्म हुआ जो एक प्रतिष्ठित कवि एवं गीतकार थे इस प्रकार 2 अगस्त को ना जाने कितने अनगिनत महान व्यक्तियो ने जन्म लिया होंगा और अपना नाम और हमारे देश का नाम रोशन किया होंगा जिनकी।जानकारी हमारे पास होती हैं तो हम उसे जान जाते है पर ना जाने कितने ही महान व्यक्ति होंगे जिनकी जानकारी हमें प्राप्त नहीं हो पाती है।

>3 अगस्त को क्या है

>हिंदी भाषा का हमारे जीवन में महत्व

2 अगस्त को हुए निधन

जिस प्रकार 2 अगस्त महान व्यक्ति के जन्मदिन का दिन है उसी प्रकार उस दिन कई महान व्यक्तियों ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था।इन्ही में से कुछ महान व्यक्ति इस प्रकार है।

-2 अगस्त 1714 को स्टीम इंजन के आविष्कारक डेनिम पापेन का निधन हुआ था।

-2 अगस्त 1979 को हिंदी चलचित्र अभिनेता ,गायक करन दिवान का निधन हुआ था।

-2 अगस्त 1921 इतावली संगीतकार, गायक एनरिको करुसो का निधन हुआ था।

-2 अगस्त 2010 भारतीय सिनेमा के अभिनेता कमल कपूर का निधन हुआ था।

-2 अगस्त 1980 पदमभूषण से सम्मानित प्रसिद्ध मूर्तिकार रामकिंकर बेज का निधन हुआ था।

-2 अगस्त 2009 कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा गुजरात के मनोनीत राज्यपाल देवेंद्र नाथ द्विवेदी का निधन हुआ था।

इस प्रकार 2 अगस्त का दिन प्रत्येक दिन के हिसाब से आता हैं और चला जाता हैं परंतु इन्ही तारीख में कोई महान व्यक्ति जन्म लेता है और कुछ खास कार्य करता है और इतिहास के पन्नों में अपनी एक अमीठ छाप छोड़ जाता है।जिसको हम उस व्यक्ति के ना रहने पर भी उनकी सालगिरह को प्रत्येक साल याद करके बड़े उत्साह के साथ मनाते हैं तभी तो वो महान कह लाते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here