1 अगस्त को क्या है

0
81
1 august ko kya hai

हरेक दिन की कोई ना कोई कहानी अवश्य होती है कुछ हमारे जीवन से होकर गुजर जाति है तो कुछ इतिहास के पन्नो में अपना एक महत्वपूर्ण स्थान बना लेती है इसमें कुछ दुःखद तो कुछ हमारा सीना गर्व से प्रफुलित हो जाये ऐसी यादे दे जाती है।

हमारे देश भारत मे छः प्रकार की ऋतुयें होती हैं ये हम सभी जानते है और ये भी जानते है।कि एक साल में 12 महीने होते है और इन्ही 12 महीनों में 8 वा जो महीना होता है उसे अगस्त कहते है अगस्त महीने का अपना एक अलग महत्वपूर्ण स्थान है।

तो चलिए जानते है 1 अगस्त के दिन किस – किस महान लोगो ने जन्म लिया एक अगस्त का इतिहास आदि सभी वो महत्वपूर्ण बातें जो हमें जानना चाहिए चलिए जानते है।

1 अगस्त को क्या है

1 अगस्त को कैलेंडर में हम 8 वे महीने के रूप में गिना जाता है जिसे ग्रेगोरी कैलेंडर ओर जूलियन कैलेंडर के रूप में जाना जाता है। यह उन सात महीनों में से एक है जिनके अंदर दिनों की संख्या 31 होती है 1 अगस्त ग्रोगोरी कैलेंडर के अनुसार वर्ष का 213 वा दिन व साल में अभी और 152 दिन बाकी है।

1 अगस्त की महत्वपूर्ण घटनाएं और इतिहास

1 अगस्त के दिन भारत के साथ ही पुरे विश्व में ही बहुत सी ऐसी घटनाये घटित हुई है जिनका इतिहास के पन्नो में एक महत्वपूर्ण स्थान बन चूका है कुछ अच्छी तो कुछ दुखद परन्तु इतिहास के पन्नो में घटित इन घटनाओ ने हमारे ज्ञान की बागडोर को इतने अच्छे से संभाल रखा है की हम आज भी उन ऐतिहासिक घटनाओ को जान सकते है तो चलिए इन्ही कई घटनाओ में से कुछ महत्वपूर्ण घटनाओ के बारे में जानते है। 

1 अगस्त 1920 असहयोग आंदोलन अंग्रेजो के बढ़ते ज्यातियो के खिलाफ महात्मा गांधी जी ने 1920 में असहयोग आंदोलन की शुरुआत करी थी। 

1 अगस्त 1914 प्रथम विश्व युद्ध की शुरुआत हुई थी। 

1 अगस्त 1916 भारतीय राष्टीय कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष एनीबेसेन्ट ने होमरूल लीग की शुरुआत करी थी।

1 अगस्त 1883 ग्रेट ब्रिटेन में अंतराष्टीय डाकटिकट की शुरुआत हुई है।

1 अगस्त 1769  में नए लन्दन ब्रिज को यातायात के लिए खोल दिया था।

1 अगस्त 1957 को नेशनल बुक  ट्रस्ट की स्थापना की गयी थी।

1 अगस्त 1975 दुर्बा बनर्जी एक वाणिज्यिक यात्री विमान का संचालन करने वाली विशव की पहली पेशेवर महिला पायलेट बनी।

1 अगस्त 1995 हब्बल दूरबीन ने शनि ग्रह पे एक और चंद्रमा की खोज की थी।

1 अगस्त 2004 को श्री लंका ने भारत को हराकर क्रिकेट का एशिया कप जीता था।

1 अगस्त 2006 जापान ने भूकंप पूर्व चेतावनी देने की शुरुआत करी थी।

1 अगस्त वियतनाम के हिरोशिमा शहर में आयोजित अंतराष्ट्रीय गणित ओलंपियाड में भारतीय दल के लोगो ने रजत पदक जीता था।

1 अगस्त 2000 ईरान में महिलाएं भी इमाम बनी।

1 अगस्त 2004 श्रीलंका ने प्रेमदासा स्टेडियम में आयोजित फाइनल मैच में भारत को 25 रनो से हराकर एशिया कप जीत लिया।सनत जयसूर्या मैंन आफ द सीरीज बने।

1 अगस्त 2005 सऊदी अरब के बादशाह फ़हद बिन अब्दुल का निधन हुआ और उसके पाश्चात उनके भाई शाहजादा अब्दुल्ला बिन अब्दुल अजीज को देश का नया शासक नियुक्त किया गया।

1 अगस्त 2007 वियतनाम के हनोई शहर में आयोजित गणित ओलंपियाड (आईं. एम.ओ) में भारतीय दल के छः सदस्यों ने तीन रजत पदक जीते।

1 अगस्त 2008 अंतराष्ट्रीय परमाणु एजेंसी (आईएईए)के बोर्ड ने भारत के विशेष निगरानी समझौते को हरी झंडी दिखाई गई।

अगस्त माह के महत्वपूर्ण दिवस 

जिसे हमारे देश और पूरे विशव में मनाया जाता है राष्टीय पर्वतीय पर्वतारोहण दिवस

1 अगस्त राष्ट्रीय पर्वतीय पर्वतारोहण दिवस जो हर साल मनाया जाता है।ये दिवस बॉबी मैथ्यूज और उनके साथी जोश मेडिगन के सम्मान में मनाया जाता है उन्होंने न्यूयॉर्क राज्य के एडिरोंडैक पर्वत की 46 उच्च चोटियों पर सफलता पूर्वक चढ़ाई करि थी।

यार्कशायर को बढ़ावा देने के लिए 1 अगस्त 1975 को यार्कशायर दिवस मनाया जाता है।1974 में यार्कशायर रिडिंग्स सोसायटी द्वारा बर्व्रली के खिलाफ एक विरोध के रूप में पुनः संगठित किया मेडेन की लड़ाई ओर गुलामो की मुक्ति के में बिट्रिश सरकार ने 1834 में जिसके लिए ए यार्कशायर एमपी विलियम विलबरफोर्स अभियान चलाया था।

विश्व स्तनपान दिवस पहले सप्ताह से यानी 1 अगस्त से 7 अगस्त तक मनाया जाता है।ईस दिवस का मुख्य उद्देश्य महिलाओं में स्तनपान के लिए जाग्रत करना है।ये एक प्रकृतिक क्रिया है।जिसके करने से बच्चा स्वस्थ रहता है।औऱ उसके लिए अतिमहत्वपूर्ण भी है।परंतु आज कल की महिलाएं अपने को मेंटेन करने और सुंदर दिखने के फलस्वरूप अपने बच्चे को स्तनपान कराने से कतराने लगी है।फलस्वरूप इस दिन की शुरुआत हुई ताकि सभी महिलाओं को इस औऱ जाग्रत किया जाए।

1 अगस्त के दिन जन्म लेने वाले व्यक्ति 

दिन आते है।और चले जाते है पर इन्ही दिनों में कोई ना कोई जन्म लेता है।परंतु इन्ही दिनों में कोई ना कोई आम व्यक्ति जीवन में कुछ ऐसा कर गुजरता है।कि उनके जन्मवाले दिन को लोग बड़े ही उत्साह के साथ मनाकर उन्हें याद करते है।तभी तो ऐसे व्यक्ति महान लोगो की गिनती में शुमार हो जाते है।तो चलिए जानते है।कि 1 अगस्त वाले दिन किस – किस महान हस्तियों ने जन्म ले कर अपना अपने देश का नाम पूरे विशव में प्रसिद्ध किया है।सेल्यूट ऐसे महान हस्तियों को ।

कमला नेहरू

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1899

जन्म स्थान — दिल्ली

पेशा : असहयोग आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका

हरकोर्ट बटलर

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1869

जन्म स्थान — उत्तर प्रदेश

पेशा — उत्तरप्रदेश के प्रथम राज्यपाल

पुरुषोत्तम दास टण्डन

जन्म तिथि — 1 अगस्त,1882

जन्म स्थान — इलाहाबाद उत्तरप्रदेश

पेशा — स्वतंत्रता सेनानी

मीना कुमारी

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1933

जन्म स्थान — मिठावाला चॉल बम्बई, बिट्रिश भारत

पेशा — अभिनेत्री,पाश्र्वगायिका, शायरा, कॉस्टयूम डिज़ाइनर

भगवान दादा 

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1913

जन्म स्थान — मुम्बई ,महाराष्ट्र

पेशा — सिनेमा

तापसी पन्नू

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1987

जन्म स्थान–  नई दिल्ली

पेशा — फ़िल्म अभिनेत्री

मुहम्मद निसार

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1910

जन्म स्थान — होशियारपुर पंजाब

पेशा — इंडियन क्रिकेटर्स

फ्रैंक वररेल

जन्म तिथि — 1 अगस्त 1924

जन्म स्थान —  ब्रिजटाउन ,बारबाडोस

पेशा – वेस्टइंडीज क्रिकेटर

1 अगस्त को हुए निधन

1 अगस्त 2018 भीष्म नारायण सिंह का निधन हुआ वह भारतीय राजनीतिज्ञ थे जो असम औऱ मेघालय के राज्यपाल थे।

1 अगस्त 1963 जिंदा रानी सरदार मन्ना सिंह औलख जाट की पुत्री थी।पंजाब के महाराज रणजीत सिंह की पांचवी रानी व उनके सबसे बेटे दलीप सिंह की माँ थी।

1 अगस्त 1920 बाल गंगाधर तिलक ,विद्वान, गणितीय दार्शनिक औऱ भारतीय राष्टवादी नेता थे।

1 अगस्त देवकीनंदन खंनि हिंदी के महान और प्रथम तिलिस्मी लेखक थे।

1 अगस्त 2008 हरकिशन सिंह सुरजीत,भारतीय राजनेता थे।

1 अगस्त 1999 नीरद चन्द्र चौधरी भारत मे जिनका जन्म हुआ था बंग्ला तथा अंग्रेजी लेखक और विद्वान थे।

1 अगस्त 2000 अली सरदार जाफ़री जिन्हें ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त हुआ था और एक सम्मानित प्रसिद्ध शायर थे।

1 अगस्त 1591 उर्फी शिराज़ी मुगल दरबार में बादशाह अकबर के प्रसिद्ध कवियों में से एक थे।

1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति का स्वभाव

हम सभी का स्वभाव बिल्कुल अलग – अलग तो कभी एक समान ही होता है।और ये स्वभाव हम खुद ही नहीं बनाते हमारे लिए बल्कि हमारे जन्म की तारीख के दिन ही से ये तय हो जाता है कि हम किस प्रकार के स्वभाव वाले व्यक्ति होंगे,क्योंकि ये हमारे जन्मदिन की तारीख और मूलांक पर निर्भर करता है इसलिए जन्म के दीन से ही लोग बच्चे की कुंडली तक बना लेते है ताकि उन्हें पता चल सके की उनका बच्चा भविष्य में किस प्रकार का होंगा।तो चलिए जाने 1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति का स्वभाव किस प्रकार का होता है।

1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति को अपने जीवन मे एसो आराम की चाहत रहती है।

1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति निडर प्रकृति के होते है।

1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति किसी भी तरह के परेशानियों से घबराते नहीँ, बल्कि उससे डटकर लड़ते है।और आत्मविश्वास से परिपूर्ण होते हैं।

1अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति में आलस का कोई नामोनिशान नहीं होता,इसलिए जो काम हाथ मे लेते है।उसे पूरा करके ही चेन की सांस लेते है।

1 अगस्त को जन्म लेने वाले व्यक्ति में सकारात्मक ऊर्जा विधमान रहती है।ये कभी भी उम्मीद का दामन नहीँ छोड़ते दृढ़ निश्चय वाले होते है।

इस प्रकार हम समझ ही गए होंगे कि 1 अगस्त कितना महत्वपूर्ण दिन है जिसमे कई महान हस्तियों ने जन्म लिया है इसके साथ इसका इतिहास भी अविश्वसनीय है इससे हमारे सामने यही आता है कि केवल कैलेंडर के अंदर गिने जाने वाले ये दिन ही नहीं अपितु हतिहास के पन्नो में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले होते है ये दिन जो प्रत्येक दिन एक महत्वपूर्ण यादों के साथ ही इतिहास बन जाते है।

ना केवल इतिहास में ही बल्कि बल्कि प्रत्येक दिन ही कुछ ना कुछ घटित होता है जैसे अभी कुछ समय पहले ही 1 अगस्त के दीन बकरी ईद का त्योहार मुसलमान धर्म के मानने वाले लोगो ने मनाया साथ ही कोरोना काल के चलते 1 अगस्त के दिन कई महत्वपूर्ण घोषणाएं प्रधानमंत्री जी के द्वारा या मुख्यमंत्री जी के द्वारा की गई वैसे भी किसी दिन को ऐतिहासिक बन जाना ये केवल उस दिन में होने वाली क्रियाएं होती है।इस लिये अपने कान ऒर आँख को हमेशा जाग्रत रखें ताकि आप भी इस इतिहास के महत्वपूर्ण हिस्सो में शामिल हो सकें।क्योंकि प्रत्येक दिन कुछ कहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here